चैट और कॉल के माध्यम से पाएं हर सवाल का जवाब

Smart farming agriculture app- chat and call feature

🙏 नमस्ते किसान भाइयों, 

🌱 खरीफ सीजन की शुरुआत हो गयी है। किसान खरीफ सीजन की तैयारी कर रहे हैं। खरीफ सीजन में सबसे ज्यादा 🌱 सोयाबीन और कपास की खेती की जाती है। लेकिन, पिछले साल सोयाबीन पर पीला मोजेक रोग आने से 👨‍🌾 किसानों को काफी नुकसान हुआ था। ऐसे में इस बार किसान 🤔 काफी सोच समझकर सोयाबीन की खेती करना चाहते है।  लेकिन, 👨‍🌾 किसान भाइयो, आपको डरने की जरुरत नहीं है। क्योंकि 🌟 भारतॲग्री ॲप के पास है आपके हर मुश्किल का समाधान। 👉 तो आज हम ऐसे ही एक किसान के बारे में जानते है जिसका पिछले साल खरीफ सीजन में काफी नुकसान हुआ था। 

एक गांव में किशन और गोपाल नाम के 2 किसान रहते है। दोनों इस साल खरीफ सीजन में सोयाबीन की खेती करने का विचार कर रहे हैं। एक तरफ किशन बड़ी ख़ुशी से खरीफ सीजन की तैयारी कर रहा है। वहीं, दूसरी तरफ गोपाल काफी चिंतित दिख रहा है।ऐसे में किशन अपने दोस्त गोपाल से मिलने गया। 

किशन : अरे भाई गोपाल क्या हुआ, काफी चिंतित दिख रहे हो? 

गोपाल : क्या बताऊं किशन भाई, आने वाले खरीफ सीजन को लेकर काफी चिंता हो रही है?

किशन :  क्यों क्या हुआ? 

गोपाल : पिछले साल खरीफ सीजन में काफी नुकसान हुआ। सोयाबीन पर पीला मोजेक रोग आने से पूरी फसल बर्बाद हो गई। इस साल भी ऐसा न हो इस बात का डर सता रहा है।

किशन : अरे भाई टेंशन क्यों ले रहे हो। भारतॲग्री ॲप हैं ना!

गोपाल : भारतॲग्री ॲप ? 

किशन :  हाँ, भारतॲग्री ॲप! यह ॲप किसानों का सच्चा दोस्त है। भारतॲग्री ॲप की मदद से आज कई किसान निश्चित हो कर खेती कर रहे हैं। मैं भी भारतॲग्री ॲप का इस्तेमाल करता हूँ। भारतॲग्री ॲप की मदद से मेरी भी आय दोगुनी हो गयी हैं और फसल भी काफी अच्छी हो गयी हैं। 

गोपाल : भाई भारतॲग्री ॲप का इस्तेमाल कैसे करें ? 

किशन : बड़ा आसान है। सबसे पहले अपने स्मार्ट फ़ोन में भारतॲग्री ॲप डाउनलोड करें। इसके बाद इसमे हमें हमारा खेत जोड़ना है। खेत जोडने के बाद किसानों को भारतॲग्री सुपर सेवा लेनी पड़ेगा। भारतॲग्री सुपर सेवा लेने के बाद किसानों को फसल से जुडी हर जानकारी मिलेगी।  इतना ही नहीं किसान चैट या कॉल के माध्यम से भारतॲग्री के कृषिडॉक्टर से संपर्क भी कर सकते हैं। भारतॲग्री के कृषिडॉक्टर किसानों को उनके खेत और फसल से जुडी हर समस्या का अचूक समाधान देते है। 

गोपाल :  अरे वाह! यह तो काफी अच्छा है। फ़ोन पर हमें पूरी जानकारी मिल रही हैं यह तो सच में ‘सोने पर सुहागा’ जैसा है। वैसे भाई,  भारतॲग्री ॲप में और किस-किस बारे में जानकारी दी जाती है। 

किशन :  भारतॲग्री ॲप में किसानों के फसल की बुवाई से लेकर कटाई तक पूरी जानकारी दी जाती है। वहीं, किस फसल के लिए कौनसा उर्वरक अच्छा रहेगा इसके बारे में भी जानकारी दी जाती है। 

गोपाल : भारतॲग्री ॲप तो काफी अच्छा लग रहा है। लेकिन, एक समस्या है ? 

किशन : कैसी समस्या?

गोपाल : हम भारतॲग्री के कृषिडॉक्टर से चैट और कॉल के माध्यम से बात करेंगे। लेकिन, वह बिना देखे हमारे खेत के बारे में कैसे जानकारी दे सकते है? 

किशन : इसका भी एक आसान तरीका है। 

गोपाल :  वो क्या ? 

किशन : वीडियो कॉल सेवा। किसान वीडियो कॉल की मदद से भारतॲग्री के कृषिडॉक्टर से मार्गदर्शन ले सकते है। इसके लिए किसान को पहले भारतॲग्री ॲप के संवाद में वीडियो कॉल करने के लिए उन्हें बताना होगा। इसके बाद भारतॲग्री के कृषिडॉक्टर वीडियो कॉल के माध्यम से किसानों का मार्गदर्शन करते हैं। वहीं, अगर किसान खेत में उगाई गई फसल में किसी कीट एवं रोग का हमला हुआ होगा, तो वह इसका भी उपाय बताते है। 

गोपाल : यह तो सच में किसानों के लिए वरदान साबित हो रहा है। किसानों को स्मार्ट फ़ोन पर ही अपने खेत के बारे में पूरी जानकारी मिलना काफी अच्छी बात है। मैं अभी भारतॲग्री ॲप डाउनलोड करके कृषि सेवा का लाभ लेना चाहता हूँ। 

किशन : भाई तुमने एकदम सही बात कही। भारतॲग्री ॲप की मदद से किसानों का काफी फायदा हो रहा है। खास बात है कि भारतॲग्री ॲप समझने में काफी आसान है।इससे किसानों को कम लागत में ज्यादा मुनाफा हो रहा है। 

 

👨‍🌾 किसान भाइयों, तो देर किस बात कि, 

भारतअ‍ॅग्री ॲप डाउनलोड करने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें और स्मार्ट किसान बने। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *