Tur

अरहर

अपेक्षा

अपेक्षित उपज

7.2-8 क्विंटल प्रति एकड़

अपेक्षित अवधि

बुवाई से 180-190 दिन 

अपेक्षित खर्चा (रुपये)

19,092

अपेक्षित लाभ (रुपये)

37,500

जलवायु परिस्थितियाँ

जलवायु
  • आर्द्र और गर्म जलवायु इसकी वनस्पतिक विकास के दौरान  लाभदायक होती है।
  • पुष्पन और परिपक्वता तथा फल धारण के चरणों में अच्छी धूप की आवश्यकता होती है। 
  • यह पुष्पन के समय पाला पड़ने की स्थिति को अतिसंवेदनशील होता है। 
  • पुष्पन के समय बादल छाने के मौसम और अत्यधिक बारिश होने से फ़सल को काफी हद तक नुकसान पहुंचता है।
तापमान
  • 21-25℃ में अच्छी तरह से वृद्धी होती है।
  • अरहर फली विकास और पुष्पन के समय कम तापमान की स्थिति को अतिसंवेदनशील  है।
  • बादल छाए मौसम की वजह से फली खराब होती है।
फसल में पानी की आवश्यकता
  • पुष्पन और अनाज भरने के चरण के दौरान मिट्टी में अपर्याप्त नमी उपज कम करती है।
  • पानी की आवश्यकता- 600-650 मिमी बारिश के बराबर।

मिट्टी

प्रकार
  • अच्छी जल निकासी के साथ मध्यम से भारी जमीन की आवश्यकता होती है।
  • चिकनी और जल भराव वाली मिट्टी में फसल नहीं उगाई जा सकती है।
  • यह पानी की अच्छी निकासी वाली लाल चिकनी मिट्टी में भी अच्छी तरह से विकसित होती है।
सामू
  • आवश्यक सीमा – 6.5 से 7.5
  • इसकी खेती के लिए खारी-क्षारीय और जल भराव वाली मिट्टी योग्य नहीं होती है, क्योंकि इससे वृद्धी पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।
  • यदि पीएच < 6.5 है तो चूना डालें।
  • यदि पीएच >7.5 है तो जिप्सम डालें।

रोपाई की सामग्री

विपुला
कालावधी
150-170 दिन
विशेष लक्षण
निरंतर और अंतर फ़सल प्रणाली में उच्च उपज, शीर्षारंभी क्षय और बंजरपन के लिए मध्यम प्रतिरोधी
मौसम
खरीफ
उपज
9.6-10.4 (क्विंटल/एकड़)
फूले राजेश्वरी
कालावधी
140-150 दिन
विशेष लक्षण
शीर्षारंभी क्षय और बंजरपन के लिए प्रतिरोधी
मौसम
खरीफ
उपज
11.2-12 क्विंटल/एकड़
आय सी पी एल 87
कालावधी
120-130 दिन
विशेष लक्षण
सीमित वृद्धि, गुच्छों में फली, अतिरिक्त जल्दी पकने वाली किस्म
मौसम
खरीफ
उपज
7.2-8.0 क्विंटल/एकड़
ए के टी 8811
कालावधी
140-150 दिन
विशेष लक्षण
जल्दी पकने वाली, निरंतर और अंतर फ़सल किस्म
मौसम
खरीफ
उपज
6.0-6.4 क्विंटल/एकड़
बी एस एम आर 853
कालावधी
160-170 दिन
विशेष लक्षण
मध्यम आकार के लाल रंग के दाने, शीर्षारंभी क्षय और बंजरपन के लिए प्रतिरोधी, निरंतर और अंतर फ़सल प्रणाली के लिए अच्छी किस्म
मौसम
खरीफ
उपज
7.2-8.0 क्विंटल/एकड़
बी एस एम आर 736
कालावधी
170-180 दिन
विशेष लक्षण
मध्यम आकार के लाल रंग के दाने, शीर्षारंभी क्षय और बंजरपन के लिए प्रतिरोधी, निरंतर और अंतर फ़सल प्रणाली के लिए अच्छी किस्म
मौसम
खरीफ
उपज
6.4-7.2 क्विंटल/एकड़
बी डी एन 711
कालावधी
150-160 दिन
विशेष लक्षण
अर्ध-फैलती किस्म, सफेद बड़े बीज वाली किस्म, 100 बीज का वजन 10-12 ग्राम होता है। शीर्षारंभी क्षय और बंजरपन के लिए प्रतिरोधी है।
मौसम
खरीफ
उपज
7.2-8.0 क्विंटल/एकड़
बी डी एन 716
कालावधी
165-170
विशेष लक्षण
शीर्षारंभी क्षय और बंजरपन के खिलाफ प्रतिरोध। अधिक उपज देने वाली अच्छी गुणवत्ता वाली दाल की किस्म।
मौसम
खरीफ
उपज
8.0-8.8 क्विंटल/एकड़
नर्सरी के लिए औसत बीज
जल्दी पकनेवाली किस्म
7.2-8.0 किलो /एकड़
मध्यम पकनेवाली किस्म
4.8-6.0 किलो /एकड़
देर से पकनेवाली किस्म
1.2-1.6 किलो /एकड़

बीज उपचार

बीज को  इनके साथ उपचारित करें 

  • इमिडाक्लोप्रिड- 4 मिली

निर्देश – उपरोक्त मात्रा को एक किलो बीज के लिए दो लीटर पानी में मिलाएं। बीज को 10 मिनट के लिए घोल में डुबोएं और फिर 15 मिनट तक छाया में सुखाएं।

  • कार्बेन्डाजिम – 2 ग्राम 

निर्देश – उपचारित बीज को फिर से 1 किलो बीज के लिए 2 ग्राम कार्बेन्डाजिम के साथ से उपचारित करें। इसे बीज की सतह पर रगड़कर बीज पर लगाएं।

निर्देश – एक किलो बीज के लिए उपरोक्त मात्रा मिलाएं। उपरोक्त सभी सामग्री एक कंटेनर में डालें और तब तक मिलाएं जब तक बीज इस पाउडरी मटेरियल से लेपित हो जाए। 

खेत की तैयारी(मुख्य खेती )

खेत की तैयारी
  • जुताई विधि – मिट्टी के प्रकार के आधार पर भूमि की 1 या 2 बार जुताई करें।
  • खेत में निम्नलिखित चीजें मिलाएं, और इसे उचित विघटन के लिए 10 दिनों के लिए खुली हवा में रखें – 

गोबर खाद – 2 टन 

कम्पोस्ट बेक्टेरिया – 2 किलो 

  • उपरोक्त मिश्रण को मिट्टी के ऊपर बिखेरें और रोटावेटर को पूरे खेत में चलाएँ जिससे मिट्टी की एक अच्छी सतह  बन जाए
क्यारी की तैयारी
  • क्यारीयों की तैयारी- ट्रैक्टर की मदद से  मेढ़े और लकीरों में 1.5 फीट की दूरी रखकर क्यारियाँ तैयार करें।

दूरी और पौधों की संख्या

किस्में
पंक्ति से पंक्ति (फूट)
1.5 फिट
पौधे से पौधा (फूट)
0.5 फिट
पौधों की संख्या (प्रति एकड़)
99,777

पोषक तत्व प्रबंधन

  • 10:20:00 एनपीके किलो/एकड़ 
  • बुवाई के समय लागू करें – 44 किलो यूरिया , 250 किलो सिंगल सुपर फॉस्फेट   

सिंचाई

  • सिंचाई के लिए महत्वपूर्ण चरण-
    • वनस्पति विकास (30-35 दिन)
    • पुष्पन चरण (60-70 दिन)
    • फली विकास होने का चरण (70-110 दिन)
  • बाढ़ सिंचाई- हफ्ते में एकबार (बारिश पर आधारित)

अंतर खेती कार्य

खरपतवार प्रबंधन

बुवाई के 3 दिनों के बाद
विधि
छिड़काव
शाकनाशी का नाम
अट्राज़ीन (100 ग्राम प्रति एकड़) या पेन्डीमेथालिन (1400 मि.ली.प्रति एकड़ ) या फ्लुक्लोरालिन (400 ग्राम प्रति एकड़)
बुवाई के 30 दिनों के बाद
विधि
छिड़काव
शाकनाशी का नाम
ओक्सीफ्लुरोफेन (100 ग्राम प्रति एकड़)

किड और रोग प्रबंधन

सूत्रकृमि
लक्षण
फसल की वृद्धि कम होना, क्षतिग्रस्त जड़ें, पौधों का सुखना
फसल सामग्री मात्रा
नीम केक
किलो प्रति एकड
प्रयोग
मिक्स करके मिट्टी के उपर डालीये
बीज से होनेवाले रोग
लक्षण
कम अंकुरण या कुछ स्थितियों में अंकुरण बंद हो जाता हैं।
फसल सामग्री मात्रा
ट्रायकोडर्मा व्हिरीडी
40 ग्राम प्रति एकड
प्रयोग
बीजप्रक्रिया
अरहर शिम्ब मक्खी
लक्षण
हमला हुई फली मुड़ती या विकृत होती हैं। इस कीड़े की वजय से जो चावल के दाने ख़राब होते है उनपर रेशाये दिखाई देती है।
फसल सामग्री मात्रा
इमिडाक्लोप्रीड
200 मिली प्रति एकड
प्रयोग
पानी में मिक्स करके फवारणी करे
सफ़ेद चूर्णी रोग
लक्षण
पत्ते के निचे पावडर जैसे घटक आता हे और ऊपर की बाजु पिली नजर आती है।
फसल सामग्री मात्रा
सल्फर
200 ग्राम प्रति एकड
प्रयोग
पानी में मिक्स करके फवारणी करे
पत्ती धब्बा रोग
लक्षण
पत्तोंपर छोटे भूरे रंग के दाग होते हे और इन स्पॉट्स का बहरी हिस्सा पिले रंग का होता है। फलोंपर भूरे रंग के दाग आते है।
फसल सामग्री मात्रा
मॅंकोझेब
200 ग्राम प्रति एकड
प्रयोग
पानी में मिक्स करके फवारणी करे

कटाई

कटाई की कालावधी
कटाई की कालावधी
बुवाई के180-190 दिनों के बाद।
कटाई की संख्या
परिपक्व फली की पहला बहार 60- 65 दिनों के दौरान और उसके बाद दूसरा बहार 20-25 दिनों के भीतर ही आता है।

उपज

उपज
कुल फसल की मात्रा
7.2-8 क्विंटल/एकड़

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *