आलू की टॉप वैरायटी : आलू का बम्पर उत्पादन देंगी यह किस्में।

आलू की उन्नत किस्में

👩‍🌾 किसान भाइयों आलू की खेती से अधिक उत्पादन प्राप्त करने के लिए आलू की टॉप वैरायटी का चयन करना बहुत ही आवश्यक होता है। 🥔 क्योंकि उन्नत किस्मों से ही हम भारी एवं गुणवत्ता युक्त उत्पाद प्राप्त कर सकते हैं।

जैसा की आपने सुना ही होगा जैसा बीज बोओगे वैसा ही काटोगे।

आइये आलू से अच्छा और गुणवत्ता युक्त उत्पादन पाने के लिए इन किस्मों को चुने।

👉🏻 किसान भाइयों यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे ⬆️ अपवोट करें और अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर करें।👍

आलू की टॉप वैरायटी

  1. कुफरी अलंकार – यह किस्म 70 दिनों में पककर तैयार हो जाती है। यह किस्म पछेती अंगमारी रोग के लिए कुछ हद तक प्रतिरोधी है। इससे प्रति हेक्टेयर 200 से 250 क्विंटल पैदावार मिल जाती है।
  2. कुफरी चंद्र मुखी – यह किस्म 80 से 90 दिनों में पक कर तैयार हो जाती है। इससे प्रति हेक्टेयर 200 से 250 क्विंटल पैदावार प्राप्त हो जाती है।
  3. कुफरी नवताल – आलू की यह किस्म 75 से 85 दिनों में तैयार हो जाती है, जिससे प्रति हेक्टेयर 200 से 250 क्विंटल पैदावार मिल जाती है।
  4. कुफरी शील मान – यह किस्म 100 से 130 दिनों में फसल तैयार करती है, जिससे प्रति हेक्टेयर 250 क्विंटल तक पैदावार मिल सकती है।
  5. कुफरी ज्योति – फसल 80 से 150 दिनों में पक कर तैयार हो जाती है। इससे प्रति हेक्टेयर 150 से 250 क्विंटल पैदावार मिल सकती है।
  6. कुफरी सिंदूरी – आलू की यह किस्म फसल को 120 से 125 दिनों में तैयार करती है, जो कि प्रति हेक्टेयर 300 से 400 क्विंटल पैदावार देने की क्षमता रखती है।
  7. कुफरी देवा – इस किस्म बुवाई से 120 से 125 दिनों में तैयार हो जाती है, जो कि प्रति हेक्टेयर 300 से 400 क्विंटल पैदवार देने में सक्षम है।
  8. कुफरी लालिमा – यह किस्म मात्र 90 से 100 दिन में ही तैयार हो जाती है। यह किस्म अगेती झुलसा के लिए मध्यम अवरोधी भी है।
  9. कुफरी स्वर्ण – आलू की यह किस्म फसल को 110 दिन में तैयार होती है, जिससे प्रति हेक्टेयर 300 क्विंटल पैदावार मिल सकती है।
  10. कुफरी जवाहर JH 222 – आलू की यह किस्म 90 से 110 दिन में तैयार हो जाती है। यह किस्म अगेता झुलसा रोग के लिए प्रतिरोधी है। इससे प्रति हेक्टेयर 250 से 300 क्विंटल पैदावार प्राप्त हो सकती है।
  11. E-4486 – यह किस्म 135 दिन में तैयार होती है। इससे प्रति हेक्टेयर 250 से 300 क्विंटल पैदावार मिल सकती है।

 

🔰 आलू की अन्य किस्में


👉 इसके अलावा आलू की कुछ नई किस्में भी हैं, जिनमें कुफरी चिप्सोना-2, कुफरी गिरिराज, कुफरी चिप्सोना-1 और कुफरी आनंद का नाम शामिल है।

👉🏻 किसान भाइयों यदि आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे ⬆️ अपवोट करें और अपने दोस्तों और परिवार के साथ शेयर करें।👍

🔻 नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके भारतअ‍ॅग्री ॲप डाउनलोड ⏬ करें और अपने खेत को भारतअ‍ॅग्री से जोड़कर 🤝🏼 आज ही स्मार्ट किसान बनें!👍

1 thought on “आलू की टॉप वैरायटी : आलू का बम्पर उत्पादन देंगी यह किस्में।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *